जबलपुर। कलेक्टर भरत यादव ने सीएम हेल्पलाईन से प्राप्त शिकायतों के निराकरण में तत्परता बरतने के निर्देश सभी विभागों के जिला प्रमुखों को दिए हैं। आज सोमवार को समय-सीमा प्रकरणों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक को सम्बोधित करते हुए श्री यादव ने कहा कि सीएम हेल्पलाईन से प्राप्त शिकायतों का आवेदनकर्त्ता की संतुष्टि के साथ एल - ४ स्तर पर ही निराकरण किया जाना चाहिए। 
    कलेक्टर ने जनसुनवाई के दौरान और लोकसेवा केंद्र से प्राप्त आवेदनों के निराकरण की स्थिति की समीक्षा भी बैठक में की। श्री यादव ने लोकसेवा प्रदाय की गारंटी अधिनियम के तहत समय पर सेवाएं नहीं देने वाले अधिकारियों पर लगाये गए जुर्माने की राशि उनके वेतन से वसूलने तथा उन आवेदकों को शीघ्र उपलब्ध कराने की हिदायत दी, जिन्हें सेवा देने में विलंब हुआ है। 
कोर्ट मामलों में जवाब दावा तय समय में पेश करें .........
    श्री यादव ने न्यायालयीन प्रकरणों में शासन की ओर से तय समय पर जबाबदावा प्रस्तुत करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए। कलेक्टर ने कहा कि न्यायालयों में बिलम्ब से जबाब प्रस्तुत करने के कारण यदि शासन को किसी प्रकार क्षति पहुंचती है तो इसके लिये सम्बन्धित विभाग के ओआईसी को जिम्मेदार माना जायेगा और उसके विरुद्ध कार्यवाही भी की जाएगी। उन्होंने नगर निगम द्वारा न्यायालयीन प्रकरणों में जबाब प्रस्तुत करने में बरती जा रही लापरवाही पर नाराजगी भी व्यक्त की। 
कलेक्टर ने खाद्य पदार्थों में मिलावट पर सख्ती से रोक लगाने की जा रही छापामार कार्यवाही को निरन्तर जारी रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि खाद्य पदार्थों में मिलावट कर आम लोगो के स्वास्थ से खिलवाड़ करने वालों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाना चाहिए। कलेक्टर ने बैठक में नर्मदा तट के ३०० मीटर के दायरे में निर्माण किये जाने की मिल रही शिकायतों पर भी तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने स्वरोजगार ऋण योजनाओं की समीक्षा भी बैठक में की। 
बैठक में गैर हाजिर रहने पर जारी करें नोटिस .........
    कलेक्टर ने बैठक से अनुपस्थित रहने पर कृषि उपज मंडी समिति जबलपुर के सचिव को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में बार-बार की हिदायत के बावजूद प्रगति नही दिखाने पर तहसीलदार पनागर के वेतन के आहरण पर रोक लगाने के निर्देश दिए। श्री यादव ने कहा कि जो पटवारी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों के सत्यापन और पंजीयन में रुचि नहीं ले रहे हैं अथवा लापरवाही बरत रहे हैं उनके निलंबन की कार्यवाही की जाए। 
धोखाधड़ी : एफआईआर कराने में देरी करने वालों पर होगी कार्यवाही .........
    कलेक्टर ने गबन और धोखाधड़ी करने वाली सहकारी समितियों तथा सहकारी बैंक की शाखाओं के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराने में हो रहे बिलम्ब पर भी जीएम जिला सहकारी केंद्रीय बैंक से अप्रसन्नता जताई। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि जो अधिकारी धोखाधड़ी और गबन वाली समितियों एवं बैंक शाखाओं के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराने में देर करेंगे उनके विरुद्ध भी कठोर कार्यवाही की जाएगी। 
गोद दी गई आंगनबाड़ी केन्द्रों का अधिकारी करें भ्रमण .........
    श्री यादव ने बैठक में जिला स्तरीय अधिकारियों को गोद दी गई आंगनबाड़ी केंद्रों का नियमित रूप से भ्रमण करने के निर्देश भी दिए तथा इन आंगनवाड़ी केन्द्रों को आदर्श आंगनवाडी केंद्र के रूप में विकसित करने की बात कही। 
स्वतंत्रता दिवस पर जिला मुख्यालय पर आयोजित किये जाने वाले समारोह की तैयारियों की समीक्षा भी इस अवसर पर की गई। बैठक में जिला पंचायत के सीईओ प्रियंक मिश्र , अपर कलेक्टर सलोनी सिडाना , अपर कलेक्टर हर्ष दीक्षित भी मौजूद थे। बैठक में पिछले एक सप्ताह में सीएम हेल्पलाईन से प्राप्त शिकायतों के निराकरण में बेहतर परफार्मेंस करने वाले अधिकारियों का सम्मान भी किया गया।