श्रीनगर : अमरनाथ तक जाने वाले बालटाल मार्ग का एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है जिसने न सिर्फ लोग हैरान हैं, बल्कि सेना पर गर्व भी कर रहे हैं. वीडियो में आईटीबीपी के जवान बालटाल रास्ते पर स्थित संगम सीथन पर एक ग्लेशियर के ऊपर से आने वाले बड़े पत्थरों को शील्ड से रोक कर यात्रियों को सुरक्षित वहां से निकालते हुए दिख रहे हैं. वीडियो की हर तरफ सराहना हो रही है.

अमरनाथ यात्रा के दोनों मार्गों पर आईटीबीपी के करीब 5000 जवान तैनात हैं, जो कि अन्य सुरक्षा एजंसियों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं.
जानकारी के मुताबिक, आईटीबीपी द्वारा कुछ ऐसे विशेष दस्ते बनाए गए हैं, जिन्हें मेडिकल इमरजेंसी के लिए तैयार किया गया है. इसके लिए कई जवान तैयार किए गए हैं, जिन्हें यात्रा ड्यूटी से पहले विशेष मेडिकल ट्रेनिंग दी गई. यह जवान हर दो से तीन किलोमीटर की दूरी पर गश्त लगाते हुए दिखाई देते हैं. जवानों के पीठ पर ऑक्सीजन के सिलेंडर भी रहते हैं.
ज्ञात हो कि अमरनाथ यात्रा एक जुलाई से शुरू हो चुकी है. अब तक करीब 50 हज़ार से अधिक श्रद्धालुओं ने अमरनाथ गुफा में प्राकृतिक रूप से बनने वाले हिम शिवलिंग का दर्शन किया है. इस कठिन यात्रा को अंजाम देने के दौरान कई ऐसे यात्री भी हैं जिन्हें कठनाइयों का भी सामना करना पड़ा है, जिसे दूर करने के लिए हर पड़ाव पर आईटीबीपी के जवान मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी को अंजाम दे रहे हैं.

बीते 4 दिनों की बात करें तो आईटीबीपी के जवान करीब 50 से अधिक ऐसे श्र्द्धालुओं की मदद कर चुके हैं जिन्हें ऊंचाई के कारण सांस लेने में दिक्कत का सामना करना पड़ता है.