मैनचेस्टर । भारत ने वेस्टइंडीज को ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान पर खेले गए मैच में 125 रनों के विशाल अंतर से मात देकर आईसीसी क्रिकेट वल्र्ड कप 2019 में अपने विजय क्रम को जारी रखा है लेकिन नंबर 4 पर बल्लेबाजी की गुत्थी अब तक नहीं सुलझी है। वल्र्ड कप में भारत के नंबर 4 बल्लेबाज के तौर पर टीम में शामिल किए गए विजय शंकर का प्रदर्शन बहुत खराब रहा है। नंबर 4 पर विजय शंकर की नाकामी के कारण भारत का मिडिल ऑर्डर बीच के ओवरों में रन नहीं जुटा पा रहा है। विजय शंकर की कमजोरी के कारण निचले क्रम पर दबाव पड़ रहा है, जिसके कारण भारत लगातार दो मैचों में 300 का स्कोर नहीं बना पाया है। विजय शंकर की बल्लेबाजी पर सवाल उठाए जा रहे हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ शंकर 19 गेंदों पर मात्र 14 रन बनाकर आउट हो गए। शंकर का वल्र्ड कप में चयन नंबर 4 बल्लेबाज के तौर पर हुआ था, लेकिन वह लगातार फ्लॉप हो रहे हैं। शंकर ने वल्र्ड कप में अब तक खेले तीन मैचों में 58 रन बनाए हैं। विजय शंकर के इस लचर प्रदर्शन के बाद ऋषभ पंत को टीम इंडिया के प्लेइंग इलेवन में शामिल करने की मांग बढ़ गई है। पंत को वल्र्ड कप में शिखर धवन के चोटिल होने के बाद भारतीय टीम में जगह दी गई है।