भारतीय जनता पार्टी ने छत्तीसगढ़ से अपने सभी सांसदों का टिकट काट दिया है. 2014 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने इस राज्य से 10 लोकसभा सीटें जीती थीं. पार्टी ने राज्य की सभी 11 लोकसभा सीटों के लिए कैंडिडेट के नाम का ऐलान कर दिया है. बीजेपी की लिस्ट में किसी पुराने सांसद का नाम नहीं है. माना जा रहा है कि विधानसभा चुनाव में बीजेपी की करारी हार के बाद पार्टी ने ये कदम उठाया है.

बीजेपी ने रविवार को छत्तीसगढ़ की 6 लोकसभा सीटों के लिए कैंडिडेट के नाम का ऐलान कर दिया है. ये सीटें हैं: कोरबा, बिलासपुर, राजनांदगांव, दुर्ग, रायपुर, महासमुंद. कोरबा से पार्टी ने ज्योतिनंद दुबे को टिकट दिया है. जबकि यहां के मौजूदा सांसद डॉ वंशीलाल महतो हैं. बिलासपुर सीट से बीजेपी ने 2019 के लिए अरुण साव को टिकट दिया है, 2014 में इस सीट से बीजेपी के लखन लाल साहू जीते थे.

रमन सिंह के बेटे का टिकट कटा

राजनांदगांव लोकसभा सीट से इस बार पार्टी ने मौजूदा सांसद और पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह के बेटे अभिषेक सिंह का टिकट काट दिया है. उनकी जगह पर इस बार संतोष पांडे को टिकट दिया गया है. चर्चा इस बात की थी कि बीजेपी डॉ रमन सिंह को भी लोकसभा चुनाव के लिए टिकट दे सकती है, लेकिन उम्मीदवारों की पूरी लिस्ट आने के साथ ही चर्चा पर विराम लग गया है.

रायपुर लोकसभा सीट से बीजेपी ने सुनील सोनी को उम्मीदवार बनाया है. 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान बीजेपी के रमेश वैश्य इस सीट से चुनाव जीते थे. इस बार उनका पत्ता कट गया है. छत्तीसगढ़ की महासमुंद लोकसभा सीट से बीजेपी ने इस बार चुन्नीलाल साहू को टिकट दिया है. 2014 में इस सीट से बीजेपी के चंदू लाल साहू चुनाव जीते थे.

पहले जारी किए 5 नाम

इससे पहले 21 मार्च को बीजेपी ने छ्त्तीसगढ़ की 5 लोकसभा सीटों के लिए अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया था. बीजेपी ने सरगुजा लोकसभा सीट से रेणुका सिंह को पार्टी ने उम्मीदवार बनाया है. 2014 में यहां से कमलभान मराबी चुनाव जीते थे. रायगढ़ लोकसभा सीट से गोमती साई को कैंडिडेट बनाया गया है. पिछले लोकसभा चुनाव में इस सीट से विष्णुदेव साई ने बीजेपी के टिकट पर जीत हासिल की थी. जांजगीर चांपा लोकसभा सीट से पार्टी ने गुहाराम अजगले को कैंडिडेट बनाया है. 2014 में इस सीट पर बीजेपी की कमला देवी ने जीत हासिल की थी.

बीजेपी ने नक्सल प्रभावित बस्तर लोकसभा सीट से सांसद दिनेश कश्यप का टिकट काट दिया है. उनके स्थान पर पार्टी ने बैदूराम कश्यप पर भरोसा जताया है. बैदूराम कश्यप चित्रकोट विधानसभा सीट से दो बार के विधायक रहे हैं. वर्तमान में वह बस्तर जिले के भाजपा अध्यक्ष हैं. कश्यप वरिष्ठ आदिवासी नेता हैं. भाजपा ने कांकेर लोकसभा सीट से सांसद विक्रम उसेंडी का टिकट काटते हुए मोहन मंडावी को अपना प्रत्याशी बनाया है. मंडावी कांकेर क्षेत्र में भाजपा के सक्रिय नेता हैं.

दुर्ग लोकसभा सीट से विजय बघेल बीजेपी के उम्मीदवार है. पिछली लोकसभा चुनाव के दौरान इस सीट से बीजेपी को हार मिली थी और कांग्रेस के ताम्रध्वज साहू चुनाव जीते थे.