अमरेली | गुजरात कांग्रेस नाराज नेता और कार्यकर्ताओं के इस्तीफों का दौर थम नहीं रहा| फरवरी और उसके बाद जारी मार्च महीने में कांग्रेस के कई दिग्गज नेता भाजपा मं् शामिल हो चुके हैं| अब अमरेली जिले के सावरकुंडला तहसील के 150 जितने कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इस्तीफा दे दिया है| दरअसल सावरकुंडला के सहकारी नेता दीपक मालाणी को सस्पैंड किए जाने से नाराज कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस का हाथ छोड़कर भाजपा का दामन थाम लिया है| जिला पंचायत की विजपडी और आंबरडी सीट के जिला पंचायत सदस्यों ने इस्तीफा दिया है| लालभाई मोर और रमीलाबेन मालाणी ने भी कांग्रेस को अलविदा कर दिया है| विधायक प्रताप दूधात निर्वाचन क्षेत्र में लोकसभा चुनाव से पहले एक साथ 150 कार्यकर्ताओं के इस्तीफे कांग्रेस के लिए बड़ा झटका है| गौरतलब है फरवरी में ऊंझा से विधायक डॉ. आशा पटेल इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो गई थीं| जिसके बाद माणावदर से विधायक जवाहर चावडा ने इस्तीफा दिया और दूसरे दिन राज्य के कैबिनेट मंत्री बन गए| बाद में ध्रांगध्रा के विधायक परषोत्तम साबरिया और जामनगर ग्रामीण के विधायक वल्लभ धारविया भी इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो चुके हैं| जबकि तालाला के कांग्रेस विधायक भगवान बारड को कोर्ट द्वारा खनिज चोरी के मामले में 2 साल 9 महीने की सजा सुनाए जाने के बाद उन्हें सस्पैंड कर दिया गया है|