भोपाल/इन्दौर । मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ से गत दिवस भोपाल में जायका मिशन दल ने मुलाकात की। श्री नाथ की जायका के प्रतिनिधि-मण्डल से स्मार्ट सिटी की तरह स्मार्ट गाँव बनाने के संबंध में चर्चा हुई। मुख्यमंत्री ने बैठक में निर्देश दिये कि प्रस्तावित परियोजनाओं का परीक्षण कर सभी औपचारिकताएँ पूरी कर जल्द ही उनका क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाये, जिससे अगले तीन वर्ष में योजनाएँ मूर्त रूप ले सकें। मुख्यमंत्री ने जायका मिशन दल से प्रदेश में मोनो रेल परिचालक प्रोजेक्ट तथा वन संरक्षण, संयुक्त वन प्रबंधन और जैव-विविधता परियोजना में निवेश की इच्छा व्यक्त की। इस मौके पर मुख्य सचिव श्री एस.आर. मोहंती उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री से मुलाकात के दौरान जायका के मिशन दल ने बताया कि जापान द्वारा मध्यप्रदेश में समूह जल-प्रदाय योजनाओं के क्रियान्वयन के लिये वित्तीय सहायता देने की सहमति दी गयी है। जायका से वित्तीय सहायता के लिये 3000 करोड़ रुपये की परियोजना प्रस्तावित है। परियोजना में मंदसौर, नीमच एवं रतलाम जिले के 9 विकासखण्ड के 1735 गाँव में लगभग 20 लाख ग्रामीण आबादी को घरेलू नल कनेक्शन के जरिये पेयजल उपलब्ध होगा।
जायका मिशन दल में सुश्री मिसातो तकाहासी कन्ट्री ऑफिसर, श्री कजुनोरी नकाई इंजीनियर, श्री केनीचीरो इवाहोरी प्रोग्राम स्पेशलिस्ट, श्री सुब्रतो तलुकदार प्रिंसिपल डेवलपमेंट स्पेशलिस्ट, जायका कन्सलटेंट फर्म निप्पॉन कोई कम्पनी लिमिटेड के श्री मयासुकी फुजी, टीम लीडर श्री रिसा किकुची, सब लीडर श्री हीदेहीसा तमुरा, फेसिलिटी प्लानिंग और ऑपरेशन एण्ड मेटेंनेंस श्री अकीरो नटोरी शामिल थे।