नेपियर । भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए पहले एकदिवसीय क्रिकेट मुकाबले में मेजबान न्यूज़ीलैंड को 38 ओवर में 157 रनों पर ही समेट दिया। भारत की ओर से कुलदीप यादव ने 39 रन देकर चार, मोहम्मद शमी ने 19 रन देकर तीन और युजवेन्द्र चहल ने 43 रन देकर दो विकेट लिए। इस प्रकार भारतीय टीम को जीत के लिए 158 रनों का आसान लक्ष्य मिला है। इस मैच में मेजबान टीम के कप्तान केन विलियमसन ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी का फैसला किया जो सही साबित नहीं हुआ। कीवी टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। पारी की शुरुआत में ही तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने पहले तीन ओवरों में दोनों सलामी बल्लेबाजों को पेवेलियन भेजकर कीवियों को करारा झटका दिया। शमी ने ये दोनों विकेट अपनी पहली नौ गेंदों में ही ले लिए। पहले ओवर में उन्होंने मार्टिन गुप्टिल (5 रन) को पेवेलियन भेजा। वहीं दूसरे ओवर में उन्होंने कॉलिन मुनरो (9 रन) को भी आउट कर दिया। इसके बाद कप्तान केन विलियमसन और रॉस टेलर से मेज़बान टीम को उम्मीदें थीं. दोनों बल्लेबाज़ टीम को 52 के स्कोर तक भी लेकर गए पर इसके बाद युजवेन्द्र चहल की फिरकी के सामने टेलर टिक नहीं पाये। चहल ने पहले उन्होंने टेलर (24 रन) को अपनी ही गेंद पर कैच किया। इसके बाद उन्होंने 11 के स्कोर पर लैथम को भी इसी प्रकार पेवेलियन भेज दिया। 
वहीं एक छोर पर कप्तान विलियमसन जमे रहे जबकि दूसरे छोर पर बल्लेबाज़ एक के बाद एक पेवेलियन लौटते गये। निकल्स ने केन के साथ टीम को 100 रनों के पार पहुंचाया ही था कि केदार जाधव की गेंद पर निकल्स भी आउट हो गये। उन्होंने 17 गेंदों का सामना किया 12 रन बनाए। इसके बाद शमी ने मिशेल सैंटनर 14 रन को आउट कर अपना तीसरा विकेट लिया। इस दौरान विलियमसन ने अपना 36वां अर्धशतक पूरा किया।
लेकिन 146 के स्कोर पर वही भी कुलदीप की गेंद पर विजय शंकर के हाथों कैच हो गये। विलियमसन ने 81 गेंदों में 7 चौकों के साथ 64 रन बनाए। इसके बाद न्यूज़ीलैंड की पारी सिमट गई। ब्रेसवेल 7 रन और फर्ग्यूसन खाता भी नहीं खोल पाये। आखिर में बोल्ट को स्लिप में कैच करवाकर कुलदीप ने चौथा विकेट भी पूरा किया। शमी ने 6 ओवरों में 19 रन देकर 3 विकेट लिए। वहीं कुलदीप ने अपने पूरे 10 ओवर के स्पेल में 39 रन देकर 4 विकेट अपने नाम किए जबकि चहल ने 10 ओवरों में 43 रन दिए 2 अहम विकेट लिए।
टीम इंडिया ने इस मैच में अपने अंतिम ग्यारह में अंबाती रायुडू और कुलदीप यादव को शामिल किया है, इन दोनों को दिनेश्‍ा कार्तिक और रवींद्र जडेजा की जगह टीम में शामिल किया गया है।